रिपोर्ट वायर – प्रधानमंत्री आवास योजना बड़ी होकर एक बन गई | topgovjobs.com

इन लोगों के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना वरदान साबित हो रही है, जो अपनी गरीबी और आर्थिक स्थिति के कारण अपना घर नहीं बना पा रहे थे। पीएमएवाई इस समय उन करोड़ों लोगों के सपने को पूरा कर रही है जो अपना पक्का घर होने के सपने को तरस रहे हैं। पंचायत बदराजपुर जिले की ग्राम पंचायत खलारी के बंशीलाल ने भी जीवन भर अपने परिवार के लिए पक्का घर बनाने का सपना संजोया था। लेकिन घर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण वह अपना चिरस्थायी घर नहीं बना पा रहा था। ऐसे में प्रधानमंत्री आवास योजना उनके लिए वरदान बनकर आई और उनके सपने को पूरा किया।
बंशीलाल बताते हैं कि वे तीन लोगों के परिवार के साथ अपने जीर्ण-शीर्ण, कच्चे घर में रहते थे। वह कड़ी मेहनत करके और खेती में हाथ बँटाकर अपना घर चलाता था। उनके घर की आर्थिक स्थिति बहुत कमजोर थी। बारिश के मौसम में उनके घर की छत से पानी टपकता था, दीवारों से रिस कर घर में घुस जाता था, घर की तरफ से बहने वाले नाले का पानी भी कई बार घर में घुस जाता था, उमस के दौरान घर के अंदर भी दिन। रहन-सहन में अनेक समस्याओं के साथ-साथ जर्जर मकान के गिरने तथा घर में सांप-बिच्छू जैसे पशुओं के घुसने का भी खतरा बना रहता था। कच्चे घर और उमस के कारण स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं की भी चिंता थी। ऐसे में उनका एक ही सपना था कि उनका अपना एक पक्का घर हो। ऐसे में उन्हें सरकार की साहसिक प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) योजना के बारे में पता चला, जिसका फायदा उठाकर उन्होंने अपने कच्चे मकान की जगह पक्का मकान बनवा लिया। जिससे उनका पक्का मकान बनाने का सपना पूरा हो गया। उन्होंने बताया कि अब हमें आवास के साथ-साथ सरकार की विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं का भी लाभ मिल रहा है। रोजगार से लेकर तंदुरूस्ती तक, संघीय सरकार हमारी जरूरतों का ख्याल रखती है। जिसके लिए हम बहुत खुश हैं और इसके लिए प्रशासन का तहेदिल से आभार व्यक्त करते हैं।
बंशीलाल वह नहीं होना चाहिए जिसने इस शासन योजना का भला खरीदा हो। जिले में कई ऐसे लोग हैं, जिन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत अपने सपनों की संपत्ति खरीदी है। पंचायत बडेराजपुर जिले में राशि मिलने के बाद से आवास निर्माण का काम लंबित है क्योंकि कोरोना काल तेज हो गया है और हितग्राहियों को अपना घर बनता नजर आ रहा है. अब तक पंचायत बडेराजपुर जिले में कुल 1538 आवास स्वीकृत किये गये हैं, जिनमें से 1226 आवासों का विकास कार्य किया जा चुका है जबकि 312 आवास विकास चरण में हैं.
प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पंचायत बदराजपुर जिले में 1538 हितग्राहियों को प्रथम किश्त, 1495 हितग्राहियों को द्वितीय किस्त, 1308 हितग्राहियों को तृतीय किश्त तथा 790 हितग्राहियों को चतुर्थ किश्त के रूप में राशि प्रदान की गयी. यह राशि सीधे हितग्राहियों के खाते में डाली गई है। इसलिए, शहरीकरण का काम उठाया गया है। वहीं, कई हितग्राहियों में इस बात की खुशी की लहर है कि उनके सपनों की संपत्तियों का निर्माण शीघ्र हो सकेगा.

पढ़ते रहते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *